National Education Day: स्वतंत्र भारत के प्रथम शिक्षा मंत्री के जन्मदिवस पर सेमिनार का आयोजन

 

अजवद क़ासमी/इम्तियाज़ नदवी
जौनपुर:- सर् सैय्यद एजुकेशनल वेलफेयर सोसाइटी ने राष्ट्रीय शिक्षा दिवस एवं स्वतंत्र भारत के प्रथम शिक्षा मंत्री मौलाना अबुल कलाम आज़ाद के जन्मदिवस पर नगर के हिंदी भवन में”मौलाना अबुल कलाम आज़ाद का राष्ट्र के प्रति समर्पण” विषय पर केंद्रित एक सेमिनार का आयोजन किया। प्रोग्राम की अध्यक्षता डॉ जंगबहादुर सिंह प्रिंसिपल जनक कुमारी इंटर कॉलेज ने किया,मुख्यातिथि की रूप में डॉ. रेहान अख़्तर क़ासमी असिस्टेंट प्रोफेसर अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी एवं विशिष्ट अतिथि के रूप में मौलाना अनवार अहमद क़ासमी चेयरमैन जामिया ग्रुप ऑफ एजुकेशन,डॉ अलमदार नज़र प्रिंसिपल आर डी एम शिया इंटर कॉलेज उपस्थित रहे। सेमिनार का शुभारंभ अंसार जौनपुरी ने तिलावत ए क़ुरआन से किया उसके बाद प्रोग्राम के कन्वीनर आरिफ़ खान एवं शाहनवाज़ मंज़ूर ने आमंत्रित अतिथियों को अंगवस्त्र व मोमेंटो भेंट करके उनका सवागत व अभिनंदन किया। प्रोग्राम का संचालन इंजी. क़ासिम मुस्तफ़ा ने किया।

प्रोग्राम को संबोधित करते हुए मुख्यातिथि डॉ. रेहान अख़्तर क़ासमी ने कहा कि 11 नवंबर को मौलाना अबुल कलाम आज़ाद के जन्मदिवस पर शिक्षा दिवस के रूप में पूरे देश में मनाया जाता है और उनका जन्मदिवस मनाना उनकी शिक्षा नज़रिया को आगे बढ़ाना होगा क्योंकि उनका मानना था कि शिक्षा को लेकर किसी प्रकार का भेदभाव नहीं होना चाहिए उन्होंने कहा कि ऐसे आयोजनों से समाज में बेदारी पैदा होती है और दशा दिशा तय करने में आसानी होती है।

मौलाना अनवार अहमद क़ासमी ने कहा कि देश के महान स्वतंत्रता सेनानी,विद्वान और प्रख्यात शिक्षाविद् मौलाना अबुल कलाम आज़ाद राष्ट्र निर्माण और देश के विकास में अच्छी शिक्षा कितनी महत्वपूर्ण है,यह अच्छी तरह जानते थे उन्होंने देश में आधुनिक शिक्षा पद्धति लाने के लिए कई बड़े कदम उठाए हमेशा राष्ट्रीय शिक्षा दिवस के दिन शिक्षा के क्षेत्र में उनके द्वारा किए गए बेहतरीन कार्यों को याद किया जाता रहेगा।

डॉ. जंगबहादुर सिंह ने अपने अध्यक्षीय उदबोधन में कहा कि मौलाना अबुल कलाम आज़ाद हिन्दू मुस्लिम एकता के क़ायल थे और जब देश का विभाजन हो रहा था तो उन्होंने भारत में रहना पसंद किया और मुसलमानों को भी इसके लिये प्रेरित किया आज मैं उनके जन्मदिवस पर उन्हें नमन करता हुँ। इसके अतिरिक्त तेज बहादुर सिंह पूर्व अध्यक्ष सिविल कोर्ट,एस पी मानव जिलाध्यक्ष आज़ाद भारत समाज पार्टी,एडवोकेट मंजू श्रीवास्तव ने भी सेमिनार को संबोधित किया। अंत में कन्वीनर आरिफ़ खान,शाहनवाज मंज़ूर ने संयुक्त रूप से सम्मिलित लोगों के प्रति आभार व्यक्त किया।

इस अवसर पर बादशाह एडवोकेट,जेपी कॉमरेड,इरफ़ान जौनपुरी,अनवारुल हक़ गुड्डु,कमालुद्दीन अंसारी,हनीफ़ अंसारी,सलिमुल्लाह खान चुन्ना,मौलाना नसीम हलीमी,हफ़ीज़ शाह अध्यक्ष मरकज़ी सीरत कमेटी,इरशाद अहमद,आरिफ हबीब खान,अज़ीज़ फरीदी आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *