तालिबान से भारत की नजदीकियो के बीच पाक और चीन हुवे एलर्ट कर दिया ये बड़ा एलान

पाकिस्तान मे सैन्य अड्डा बनाने मे जुटा चीन अब चाइना पाकिस्तान एकोनामिक कॉरिडोर को अफगानिस्तान तक लेजाने की तैयारी मे है,इस सम्बंध मे पाक और चीन रणनीति बना रहे है,वैसे भी इस प्रोजेक्ट को जहाँ अमेरिका के सहयोगी देश संदेह की नज़र से देख रहे है तो वही विशेषज्ञो की माने तो इस प्रोजेक्ट से सीधा फायदा चीन और पाकिस्तान को मिलना है,वही इस प्रोजेक्ट का भारत ने हमेशा से विरोध किया है क्युंकि एकोनामिक कॉरिडोर पाक आधिकृत कश्मीर से होकर गुज़र रहा है जिस पर भारत का अपना दावा है।


वही सूत्रो की माने तो चीन अब इस प्रोजेक्ट मे काबुल को भी जोड़ने की कोशिश मे लग गया है,और ये सब तब हुवा है जब अफगानिस्तान मे तालिबान शासन की वापसी के बाद भारत ने अपने दूतावास को जून मे एक बार फिर से सक्रिय किया है,और तालिबान से अपना सम्पर्क बढ़ाया है, चीन की निगाह अफगानिस्तान मे मौजूद अरबो डालर के प्राकृतिक संसाधनो एवं खनिज पदार्थो पर है जिन पर कब्ज़ा करके चीन मालामाल हो सकता है,इसके इलावा चीन की कोशिश है कि वो अफगानिस्तान के रास्ते मध्य एशिया के अन्य देशो को खुद से जोड़ सके।


गौर तलब रहे कि अफगानिस्तान मे तालिबान के शासन को अब तक किसी भी देश ने मान्यता नही दी है,वही इस प्रोजेक्ट के विस्तार को देखते हुवे पाक विदेश मंत्रालय ने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से अफगान के विदेशी मुद्रा भण्डार को बहाल करने एवं बैंको के संचालन को फिर से शुरु करने पर ज़ोर दिया है,बता दें कि अफगानिस्तान को लीथियम का सऊदी अरब कहा जाता है,जिसका इस्तेमाल लैपटाप और मोबाइल की बैटरियों मे किया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *