मुसलमानों से दुनिया भर के सवाल पूछने वाले लिबरल, संघी, इस उत्पीड़न पर भी जवाब दें, थाईलैंड….

बदलते हालात में जब भी कहीं कोई मामला होता है इसमें इस्लाम और मुसलमानों पर निशाना साधा जाता है ऐसी कुछ घटनाओं को लेकर मोहम्मद इकबाल ने सवाल किया है पढ़िए! लिबरल संघियों का टोला अफ़ग़ानिस्तान में अल्पसंख्यक अधिकारों के लिए रो रहा है, और इसी बहाने लंबा लंबा पोस्ट लिख कर हिंदुस्तानी मुसलमानों को गरिया रहा है,कंबोडिया जो एक बौद्ध बहुल देश है, नरसंहार और पलायन के बाद वहां बारह प्रतिशत मुसलमान से घटकर दो प्रतिशत रह गए, लिबरल संघीयो की टोली बताए के इसके लिए कौन सा धर्म ज़िम्मेदार है ?

थाईलैंड जो एक बौद्ध बहुल देश है वहां मुसलमानों ने नरसंहार और उत्पीड़न के बाद पलायन किया जिससे उनका प्रतिशत घट गया, लिबरल संघियों का टोला बताए इसके लिए कौन सा धर्म ज़िम्मेदार है? म्यांमार जो एक बौद्ध बहुल देश है वहां रोहंगिया मुसलमानों के नरसंहार और उत्पीड़न के ज़ख्म तो अभी सूखे भी नहीं हैं, नरसंहार और उत्पीड़न झेलने के बाद कई मिलियन रोहंगिया दुनिया के मुख़्तलिफ़ देशों में रिफ्यूजी बनकर ज़िन्दगी गुज़ार रहे हैं, लिबरल संघियों का टोला बताए इसके लिए कौन सा धर्म ज़िम्मेदार है?

श्रीलंका जो एक बौद्ध बहुल देश है वहां मुसलमानों के उत्पीड़न की घटना तो बिल्कुल ताज़ा है, लिबरल संघियों का टोला बताए इसके लिए कौन सा धर्म ज़िम्मेदार है ? मुसलमानों से दुनिया भर के सवाल पूछने वाले लिबरल संघी दुनिया भर के उत्पीड़न का जवाब भी दें,
एक तरफ़ा हिपोक्रेसी कबतक चलेगी ?

लेखक का निजी विचार है !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *