चीन-ताइवान के बीच अगर युद्ध हुआ तो आपका मोबाइल और कंप्यूटर्स हो जाएंगे बंद, वजह ऐसी आप…

चीन की तमाम धमकियों के बावजूद अमेरिकी संसद की स्पीकर नैंसी पेलोसी ताइवान दौरा किया और वो 19 घंटे तक ताइवान के राष्ट्रपति और वहां के अधिकारियों से मिलती रहीं अमेरिका को चीन की चेतावनियों से कोई फर्क नहीं पेलोसी ने ताइवान को भरोसा दिलाया कि अमेरिका उनके साथ है इस दौरे से बौखलाए चीन ने ताइवान में कई जगहों पर अपने फाइटर जेट और युद्धपोतों की तैनाती कर दिए हैं ।

एक खबर के अनुसार अगर चीन और ताइवान के जंग हुई तो मोबाइल, लैपटॉप, ऑटोमोबाइल सब पर संकट गहरा जाएगा दुनिया भर में हजारों कंपनियां बंद होने के कगार पर पहुंच जाएगी सैकड़ों कंपनियों को अरबों का नुकसान होगा दरअसल इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस में जिस चिप या फिर सेमीकंडक्टर का इस्तेमाल होता है, वो ताइवान में तैयार होता है दुनिया में सेमीकंडक्टर से होने वाली कुल कमाई का 54 फीसदी हिस्सा ताइवान की कंपनियों के पास है।

अगर जंग हुई ताइवान में उत्पादन बंद हो गया जिसका झटका पूरी दुनिया को लगेगा आपको बता दें भारत में 70 करोड़ से ज्यादा लोग मोबाइल का इस्तेमाल करते हैं जबकि 20 करोड़ से ज्यादा लोग लैपटॉप और कार का इस्तेमाल करते हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *