तालिबान के खिलाफ लड़ने की ट्रेनिंग लेकर काबुल पहुंचे सैनिको के साथ हुआ ऐसा सलूक, हर कोई….

 

भारतीय सेना के प्रशिक्षण केंद्र आईएमए से आना प्रशिक्षण पूरा कर अफगानी सेना के कैडेट काबुल पहुंच चुके हैं,खास बात यह है कि इन कैडेटों को खास तौर से तालिबान के खिलाफ लड़ाई लड़ने के प्रशिक्षित किया गया था,लेकिन देहरादून मे पिछ्ले महीने हुवी पासिंग आउट परेड से पहले ही तालिबान ने अफगानिस्तान की सत्ता अपने हाथों मे ले लिया,11 जून को देहरादून मे अपना प्रशिक्षण पूरा कर जब यह कैडेट काबुल एयरपोर्ट पर पहुंचे तो इनके साथ जो हुवा उसकी शायद इन्होने कल्पना भी न की हो।

काबुल एयरपोर्ट पर पहुँचते ही कैडेटों का ज़ोरदार स्वागत किया गया,तालिबान सरकार ने अफगान सैन्य कैडेटों के एक बैच के लौटने पर ऐसा स्वागत किया मानो जैसे रेड कार्पेट बिछा दिया हो, काबुल लौटे करीब दो दर्जन अफगान सैनिकों  ने 11 जून को देहरादून में भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए) में अपना प्रशिक्षण पूरा किया था, बता दें कि यह सैनिक खास तौर से तालिबान के खिलाफ ही जंग लड़ने को तैयार किए गए थे।

गौर तलब रहे कि कुछ दिन पहले ही अफगानिस्तान के रक्षा मंत्री के अनुरोध पर भारतीय विदेश मंत्रालय ने कैडेटो से सीधा संवाद कराया था,जिसके बाद कैडेटो को रक्षा मंत्री ने आश्वासन दिया था कि वो वापस अपने देश आये उन्हे नौकरी और सम्मान दिया जायेगा,वही अफगान सैनिको के गर्मजोशी के साथ हुवे स्वागत को नई दिल्ली से बढ़ती नजदीकियो को भी दिखाता है,क्युंकि हाल ही मे भारत ने तालिबान से धीरे धीरे रिश्ते बहाल करने शुरु किये है और काबुल मे दूतावास एक बार फिर से सक्रिय हुवा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *